+Get Now!

प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

19 March 2011

वो बीती होली....

वो बचपन की होली
दोस्तों संग ठिठोली
वो मस्ती वो उल्लास
वो अबीर वो गुलाल
गुब्बारों की मार
पिचकारी की फुहार
वो गुझियों पर टूट पड़ना
और ठूंस ठूंस कर खाना
बे फ़िक्र होकर घूमना
ठंडाई के लिए लड़ना
और हंसना
भांग के नशे में झूमते
हुडदंगियों को देख कर

वो रंगे पुते चेहरे
जो एहसास कराते
बीस दिनों तक
होली की ताजगी का

याद  आते हैं वो दिन
जो अब  दुर्लभ हैं
होली अब भी है
पर बेशर्म हुडदंग हैं
और उत्साह
कुछ घंटों का है
क्योंकि
सब व्यस्त हैं
घड़ी की सुइयों से
तेज चलने की
राहें  तलाशने में!

आप सभी प्रबुद्ध पाठकों को सपरिवार होली की हार्दिक शुभकामनाएं !

29 comments:

डॉ. मोनिका शर्मा said...

वो बचपन की होली
दोस्तों संग ठिठोली
वो मस्ती वो उल्लास
वो अबीर वो गुलाल
गुब्बारों की मार
पिचकारी की फुहार
बचपन में त्योंहारों की अलग की मस्ती होती है..... बहुत सुंदर
रंग पर्व की मंगलकामनाएं

mridula pradhan said...

होली अब भी है
पर बेशर्म हुडदंग हैं
ekdam sahi .......

Dr. Zakir Ali Rajnish said...

होली के पर्व की अशेष मंगल कामनाएं। ईश्वर से यही कामना है कि यह पर्व आपके मन के अवगुणों को जला कर भस्म कर जाए और आपके जीवन में खुशियों के रंग बिखराए।
आइए इस शुभ अवसर पर वृक्षों को असामयिक मौत से बचाएं तथा अनजाने में होने वाले पाप से लोगों को अवगत कराएं।

Dr (Miss) Sharad Singh said...

वो रंगे पुते चेहरे
जो एहसास कराते
बीस दिनों तक
होली की ताजगी का.....

रचना में भावाभिव्यक्ति बहुत अच्छी है....बधाई.
होली की हार्दिक शुभकामनाएं !

Chaitanyaa Sharma said...

होली की शुभकामनायें .....हैप्पी होली....

रश्मि प्रभा... said...

sab yaad mein hain .... holi ki shubhkamnayen

Kailash Sharma said...

होली अब भी है
पर बेशर्म हुडदंग हैं
और उत्साह
कुछ घंटों का है
क्योंकि
सब व्यस्त हैं
घड़ी की सुइयों से
तेज चलने की
राहें तलाशने में!..

बचपन की होली अब कहाँ है...बहुत सार्थक, भावपूर्ण और सुन्दर प्रस्तुति..होली की शुभकामनायें!

Chinmayee said...

हैप्पी होली भैया .......

निवेदिता श्रीवास्तव said...

होली की अनन्त शुभकामनायें.....

समयचक्र said...

रंगों के पावन पर्व होली के शुभ अवसर पर आपको और आपके परिवारजनों को हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई ...

sushma verma said...
This comment has been removed by the author.
sushma verma said...

वो बचपन की होली
दोस्तों संग ठिठोली.. apne holi se judi har yaad ko hame yaad dila diya... bhut khubsurat kavita hai...

sheetal said...

Yashwant ji
sabse pehle aap saparivaar ko Holi ki hardik subhkanmai.
aapki ye kavita bahut pasand aayi,ab wo pehle jaisa utsah nahi raha,ab to holi ke naam par huddang hi hota hain.

Shah Nawaz said...

बहुत ही बेहतरीन लिखा है...

आपको भी परिवार सहित होली की बहुत-बहुत मुबारकबाद... हार्दिक शुभकामनाएँ!

Unknown said...

बचपन में सभी त्यौहारों का मजा आता है....
सुंदर भाव
आप सबको होली की शुभकामनाएं...

Deepak Saini said...

होली की शुभकामनायें।

Suman said...

aapko bhi holi ki hardik shubhkamnaye.......
achi lagi rachna .....

Udan Tashtari said...

आपको एवं आपके परिवार को होली की बहुत मुबारकबाद एवं शुभकामनाएँ.

Patali-The-Village said...

होली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ|

रजनीश तिवारी said...

होली की हार्दिक शुभकामनाएँ !

Unknown said...

आपको सपरिवार होली की हार्दिक शुभकामनाएं

यशवन्त माथुर said...

होली की अनंत शुभकामनाओं के साथ आप सभी को बहुत बहुत धन्यवाद!

संजय भास्‍कर said...

बहुत ही बेहतरीन

आपको भी परिवार सहित होली की बहुत-बहुत मुबारकबाद... हार्दिक शुभकामनाएँ!

विभा रानी श्रीवास्तव said...

आपकी ये रचना कल नई-पुरानी हलचल पर पोस्ट की जा रही है .... ! आपके सुझाव का इन्तजार रहेगा .... !

Vandana Ramasingh said...

वो बचपन की होली
दोस्तों संग ठिठोली
वो मस्ती वो उल्लास
वो अबीर वो गुलाल
गुब्बारों की मार
पिचकारी की फुहार
वो गुझियों पर टूट पड़ना

रंग बिरंगी यादें ....बहुत सुन्दर
होली की बहुत बहुत शुभकामनाएं

Saras said...

होली की रंगीन छटाएं आपके जीवन में हर्ष और उल्लास भर दें

ANULATA RAJ NAIR said...

सच्ची क्या दिन थे..........
सुबह से दिल धड़कता था डर के मारे.....
फिर एक बार जो रंग गए तो खुद शेर हो जाते...........

होली की ढेर सारी शुभकामनाये आपको...
और सुन्दर रचना हेतु बधाई....

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

सुंदर होली की छटा बिखेरती रचना ... होली की शुभकामनायें

मेरा मन पंछी सा said...

होली की सारी मस्ती याद आ गयी
बहुत सुन्दर रचना
होली पर्व कि आपको हार्दिक शुभकामनाएँ ....

Post a comment

कृपया किसी प्रकार का विज्ञापन कमेन्ट मे न दें।
कमेन्ट मोडरेशन सक्षम है। अतः आपकी टिप्पणी यहाँ दिखने मे थोड़ा समय लग सकता है।

Please do not advertise in comment box.
Comment Moderation is active.so it may take some time in appearing your comment here.