प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

वेब सर्च (Enter your keywords to search on web)

03 November 2013

मुनिया की दीवाली

सभी पाठकों को दीवाली की अशेष शुभ कामनाएँ!

आज फिर दीवाली है
आज की रात
आसमान गुलज़ार रहेगा
आतिशबाज़ी के रंगों से
और ज़मीं पर
सजी रहेंगी महफिलें
जश्न और ठहाकों की

मेरे घर के पास रहने वाली
नन्ही मुनिया
मैली से फ्रॉक पहने
कौतूहल से देखती है
इन सब
सपनीली रंगीनीयों को
हर साल
वह बढ़ती है
एक दर्जा उम्र का
मनाती है अपना त्योहार
हर दीवाली की पड़वा को
क्योंकि मावस के बाद की हर सुबह
उसे मिलता है स्वाद
ज़मीं पर बिखरे पत्तलों से चिपके
खील बताशे और
स्वादिष्ट मिठाइयों के
अवशेषों का ।

~यशवन्त यश©

12 comments:

Ranjana verma said...

बहुत सुंदर !!
दीपावली कि हार्दिक शुभकामना !!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
--
आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज रविवार (03-11-2013) "बरस रहा है नूर" : चर्चामंच : चर्चा अंक : 1418 पर भी है!
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का उपयोग किसी पत्रिका में किया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
प्रकाशोत्सव दीपावली की
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

मेरा मन पंछी सा said...

बहुत ही भावपूर्ण रचना...

मेरा मन पंछी सा said...

दीपावली कि हार्दिक शुभकामनाएँ...
:-)

Onkar said...

वाह, कमाल की रचना है.

कालीपद "प्रसाद" said...

गरीब जिस दिन नया कपडा पहनता है उसदिन उसका दिवाली
जिसदिन भर पेट भोजन करता उसदिन होता है उसका होली
नई पोस्ट आओ हम दीवाली मनाएं!

दिगम्बर नासवा said...

असल दिवाली तो तब है जब मुनिया भी पटाखे छोड़े ...
दीपावली के पावन पर्व की बधाई ओर शुभकामनायें ...

राजीव कुमार झा said...

बहुत सुन्दर. दीपोत्सव की मंगलकामनाएँ !!
नई पोस्ट : कुछ भी पास नहीं है

विभा रानी श्रीवास्तव said...

कड़वी अच्छाई
सार्थक अभिव्यक्ति
दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें

डॉ. मोनिका शर्मा said...

व्यथित करती है ये कड़वी सच्चाई यशवंत ..... शुभकामनायें

Jyoti khare said...

वाह!!! बहुत सुंदर !!!!!
उत्कृष्ट प्रस्तुति
बधाई--

उजाले पर्व की उजली शुभकामनाएं-----
आंगन में सुखों के अनन्त दीपक जगमगाते रहें------

Unknown said...

दीवाली की शुभकामनाएं.