प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

वेब सर्च (Enter your keywords to search on web)

05 July 2019

कि मौत आती नहीं.........

वो कौन सी है बात 
जो आँधी बताती नहीं 
उड़ती धूल में भी 
कुछ छुपाती नहीं।   

ये दरख्तों की चीखें हैं 
जो गूंज पाती नहीं 
बेदर्द धरती भी 
कुछ कह पाती नहीं। 

यूं बीत रहा दिन 
कि ये रात जाती नहीं 
गिन रहा हूँ हर पल 
कि मौत आती नहीं। 
-यश©
03/07/2019 

01 July 2019

'छोटू' सिर्फ 'छोटू' नहीं होते

शीशे कारों के
चौराहों पर
कहीं साफ करते हुए
मन में घबराहट
चेहरे पर
मासूम मुस्कान
सहेजे हुए
किसी ढाबे या
दुकान पर
मजदूरी करते हुए
वो देखते हैं सपने
कि
किसी दिन
बहुत दूर होगी
ये लाचारी
बाप की बीमारी।
माँ-भाई-बहनों की
परवरिश का बोझ
अपने नाज़ुक से
कंधों पर लिए
समय से पहले ही
प्रौढ़ता के चरम को
हर कदम
अपने साथ लिए
इन्सानों की
चलती-फिरती
स्याह-सफ़ेद जिंदगी के
हर पहलू में
रचे बसे
स्वनामधन्य
ये 'छोटू'
सिर्फ 'छोटू' नहीं होते
घर के
बड़े होते हैं।

-यश ©
01/07/2019