+Get Now!

प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

मेरा परिचय



नमस्ते!
मैं यशवन्त
यश ( यशवन्त राज बली माथुर). जन्म से ले कर जीवन के 22 वर्षों तक आगरा में रहा वहीं से (डॉक्टर भीम राव अम्बेडकर यूनिवर्सिटी ) प्रथम श्रेणी में बी.कॉम (वर्ष 2005 में) भी पास किया लेकिन जीवन आता जाता रहता है कुछ बिछड़ते हैं कुछ नये मिलते हैं; सत्य किन्तु  कड़वे अनुभवों के कारण उस शहर को छोड़ने का हर पल मन होता था.नौकरी की शुरुआत भी वर्ष 2006 में वहीं से हुई.बिग बाजार से. लेकिन मौका देख कर आगरा से मेरठ पी वी एस मॉल,फिर कानपुर(किदवई नगर) ट्रांसफर लेता गया और फिर कुछ व्यक्तिगत कारणों से  लगभग 3 वर्ष 11 माह के अनुभव के साथ  मई 2010 में  इस पहली  नौकरी से कानपुर में ही रिजाइन कर दिया.इसके उपरांत कुछ समय तक रिलायंस जियो में 1 वर्ष के कार्यानुभव के पश्चात संप्रति एक अग्रणी शैक्षिक प्रकाशन समूह में  में बतौर हिन्दी प्रूफ रीडर कार्यरत हूँ।  


जहाँ तक लिखने की बात है मैं 6 वर्ष की उम्र से लिख रहा हूँ.सच कहूँ तो पापा (श्री विजय माथुर) को लिखते देख कर मैंने लिखना सीखा है.वो लेख लिखते रहते थे जो प्रकाशित भी होते थे मेरे मन में आया कि मैं कवितायेँ लिखुंगा और उन्होंने मुझे इसके लिये प्रेरित भी किया और आज भी अच्छा लिखने को प्रेरित करते हैं.समय समय पर साप्ताहिक समाचार पत्रों और त्रैमासिक पत्रिका में मेरी कवितायेँ प्रकाशित भी हो चुकी हैं.फिलहाल मेरा यह ब्लॉग(http://jomeramankahe.blogspot.com) मेरी अभिव्यक्ति का एक मात्र साधन  है.

लिखने  के अतिरिक्त इंटरनेट पर नये सोफ्ट्वेयरस की खोज,फोटोग्राफी और अच्छा संगीत सुनने का बहुत शौक है.संगीत कोई भी हो बस मुझे अच्छा लगना चाहिये फिर चाहे गानों की भाषा मैं खुद भी समझ पाऊं या नहीं.

बिग बाजार छोड़ने के बाद कभी आर.जे.बनना चाहता था क्योंकि कुछ लोगों ने उकसा दिया था कि मेरी आवाज़ अच्छी है. अपनी आवाज़ के नमूने भी भेजे थे पर घर के हेड फोन से रिकॉर्ड होने के कारण मेरी आवाज़ शायद प्रभावित नहीं कर पायी।

जीवन में ख्वाहिश  सिर्फ और सिर्फ एक अच्छा इंसान बनने की है ,एक मुकाम हासिल करने की है ;प्रयास ज़ारी हैं.

-----------------------------------------------------------------------